Muharram Shayari

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

Muharram Shayari

ख़ुदा का जिस पर रहमत हो वो हुसैन होता है,
जो इन्साफ और सत्य के लड़ जाए वो हुसैन होता है,


10 MUHARRAM SHAYARI,
10 MUHARRAM SHAYARI IN URDU,
9 MUHARRAM SHAYARI,
ALVIDA MUHARRAM SHAYARI,
HAPPY MUHARRAM SHAYARI,
IMAM HUSSAIN MUHARRAM SHAYARI,
ISLAMIC MUHARRAM SHAYARI,
MUHARRAM 2 LINE SHAYARI,
MUHARRAM 2023 SHAYARI IN HINDI,
MUHARRAM HUSSAIN SHAYARI,
MUHARRAM KI SHAYARI,
MUHARRAM KI SHAYARI IN URDU,
MUHARRAM MUBARAK SHAYARI,
MUHARRAM NEW SHAYARI,
MUHARRAM SAD SHAYARI,
MUHARRAM SHAYARI,
MUHARRAM SHAYARI 2023,
MUHARRAM SHAYARI 2024,
MUHARRAM SHAYARI DP,
MUHARRAM SHAYARI IMAGE,
MUHARRAM SHAYARI IN ENGLISH,
MUHARRAM SHAYARI IN HINDI,
MUHARRAM SHAYARI IN URDU,
MUHARRAM SHAYARI STATUS,
MUHARRAM SHAYARI URDU IMAGE,
MUHARRAM SHERO SHAYARI,
MUHARRAM UL HARAM SHAYARI,
NEW MUHARRAM SHAYARI,
SAD MUHARRAM SHAYARI,
SHIA MUHARRAM SHAYARI,
Muharram Shayari

क्या जलवा कर्बला में दिखाया हुसैन ने,
सजदे में जा कर सिर कटाया हुसैन ने,
नेजे पे सिर था और ज़ुबान पे आयते,
कुरान इस तरह सुनाया हुसैन ने,


10 MUHARRAM SHAYARI,
10 MUHARRAM SHAYARI IN URDU,
9 MUHARRAM SHAYARI,
ALVIDA MUHARRAM SHAYARI,
HAPPY MUHARRAM SHAYARI,
IMAM HUSSAIN MUHARRAM SHAYARI,
ISLAMIC MUHARRAM SHAYARI,
MUHARRAM 2 LINE SHAYARI,
MUHARRAM 2023 SHAYARI IN HINDI,
MUHARRAM HUSSAIN SHAYARI,
MUHARRAM KI SHAYARI,
MUHARRAM KI SHAYARI IN URDU,
MUHARRAM MUBARAK SHAYARI,
MUHARRAM NEW SHAYARI,
MUHARRAM SAD SHAYARI,
MUHARRAM SHAYARI,
MUHARRAM SHAYARI 2023,
MUHARRAM SHAYARI 2024,
MUHARRAM SHAYARI DP,
MUHARRAM SHAYARI IMAGE,
MUHARRAM SHAYARI IN ENGLISH,
MUHARRAM SHAYARI IN HINDI,
MUHARRAM SHAYARI IN URDU,
MUHARRAM SHAYARI STATUS,
MUHARRAM SHAYARI URDU IMAGE,
MUHARRAM SHERO SHAYARI,
MUHARRAM UL HARAM SHAYARI,
NEW MUHARRAM SHAYARI,
SAD MUHARRAM SHAYARI,
SHIA MUHARRAM SHAYARI,
Muharram Shayari

सिर गैर के आगे ना झुकाने वाला,
और नेजे पे भी कुरान सुनाने वाला,
इस्लाम से क्या पूछते हो कौन हुसैन,
हुसैन है इस्लाम को इस्लाम बनाने वाला,

क्या जलवा कर्बला में दिखाया हुसैन ने,
सजदे में जा कर सिर कटाया हुसैन ने,
नेजे पे सिर था और ज़ुबान पे अय्याते,
कुरान इस तरह सुनाया हुसैन न,

muharram shayari in hindi

यूँ ही नहीं जहाँ में चर्चा हुसैन का,
कुछ देख के हुआ था ज़माना हुसैन का,
सर दे के जो जहाँ की हुकूमत खरीद ले
महंगा पड़ा यज़ीद को सौदा हुसैन का,

खून से चरागएदीन जलाया हुसैन ने,
रस्मएवफ़ा को खूब निभाया हुसैन ने,
खुद को तो एक बूँद न मिल सका लेकिन
करबला को खून पिलाया हुसैन ने,

न हिला पाया वो रब की मैहर को,
भले जीत गया वो कायर जंग,
पर जो मौला के दर पर बैखोप शहीद हुआ,
वही था असली सच्चा पैगम्बर

muharram shayari in urdu

पानी का तलब हो तो एक काम किया कर,
कर्बला के नाम पर एक जाम पिया कर,
दी मुझको हुसैन इब्न अली ने ये नसीहत
जालिम हो मुकाबिल तो मेरा नाम लिया कर,

हुसैन तेरी अता का चश्मा दिलों के दामन,
भिगो रहा हैये आसमान में उदास बादल,
तेरी मोहब्बत में रो रहा है,
सबा भी जो गुजरे कर्बला से तो उसे,
कहता है अर्थ वालातू धीरे गूजर यहाँ मेरा,
हुसैन सो रहा है,

कर्बला को कर्बला के शहंशाह पर नाज़ है,
उस नवासे पर मुहम्मद को नाज़ है,
यूँ तो लाखों सिर झुके सज़दे में लेकिन
हुसैन ने वो सज़दा किया जिस पर खुदा को नाज़ है,

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *