Very sad shayari

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

कुछ तकलीफ़ें ऐसी होती है,
जिनपर माफ़ तो किआ जा सकता है,
लेकिन ताल्लुक नहीं रखा जा सकता,

कुछ तकलीफ़ें ऐसी होती है,
जिनपर माफ़ तो किआ जा सकता है,
लेकिन ताल्लुक नहीं रखा जा सकता,

माना की हम गलत थे जो तुझसे चाहत,
कर बैठे.पर रोयेगा कभी तू भी ऐसी वफ़ा,
की तलाश मे,

very sad shayari in hindi

इस बस्ती में कौन हमारे आँसू पोंछेगा,
जो मिलता है उसका दामन भी भीगा लगता है,

आज कल उसे मेरी कमी सताती नही,
लगता है किसी और ने पूरी कर द,

.हर कोई सो जाता ह,
अपने कल के लिए मगर,
ये नहीं सोचते की आज जिसका,
दिल दुखायावो सोया होगा या नही,

बेहद लाचारी का आलम था,
उस वक्त साहब,
जब मालुम हुआ की ये,
मुलाक़ात आखरी ह,

very sad sad shayari

सच कहा था किसी ने तन्हाई में,
जीना सीख लो,
मोहब्बत जितनी भी सच्ची हो साथ,
छोड़ ही जाती ह,

ना रास्तों ने साथ दिया,
ना मंजिल ने इंतजार किया,
मैं क्या लिखूं अपनी जिंदगी पर,
मेरे साथ तो उम्मीदों ने भी मज़ाक किया,

मेरे दिल की मजबूरी को कोई इल्जाम न दे,
मुझे याद रख बेशक मेरा नाम न ले,
तेरा वहम है कि मैंने भुला दिया तुझे,
मेरी एक भी सांस ऐसी नही जो तेरा नाम न ले,

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11 12 13

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *